शुभकामनाएं

फिटनेस सर्टिफिकेट बनाने के लिए प्रत्येक बीएड अभ्यर्थियों से ₹200 अतिरिक्त शुल्क वसूला.. जिला अस्पताल अधीक्षक कार्यालय का नजारा था बदला हुआ.. सरकारी शुल्क मात्र 101 या ₹102 था फिर भी सभी बीएड अभ्यर्थियों से फिटनेस सर्टिफिकेट बनाने के लिए ₹200 के हिसाब से सुविधा शुल्क वसूला जा रहा था जिसको लेकर अभ्यर्थियों द्वारा सीएमएस कार्यालय में गर्मा गर्मी व हंगामा भी होता नजर आया दूसरी ओर सरकार की ओर से सभी विभागों को भ्रष्टाचार रिश्वत से दूर रहने की हिदायतें दी जाती हैं परंतु आज जिला अस्पताल बरेली स्थित सीएमएस कार्यालय का नजारा बड़ा मजेदार था यहां खुले आम रिश्वत का लेनदेन चल रहा था जब एक बीएड अभ्यर्थी ने इसका विरोध किया व गर्म गर्मी के बीच इस लेन-देन का पटाक्षेप भी होता नजर आया जबकि पहले ही ₹200 के हिसाब से हजारों रुपए अतिरिक्त शुल्क वसूला जा चुका था स्मार्ट सिटी बरेली के अंदर सरकारी विभागों में इस प्रकार का लेनदेन आम बात है यदि इस बीच कोई चैनल रिपोर्टर मौके पर पहुंच जाए तो संबंधित विभाग के लोग बहुत बुरा मानते हैं